Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022: Apply Online, Application Status, Registration

Vishwakarma Shram Samman Yojana Online Registration | Uttar Pradesh Vishwakarma Shram Samman Yojana Loan | Vishwakarma Shram Samman Yojana Form PDF | Vishwakarma Shram Samman Yojana Online Application

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के मजदूरों के विकास और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 की शुरुआत की है। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत, उत्तर प्रदेश में मजदूरों और पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को उनकी क्षमताओं में सुधार करने में मदद करने के लिए छह दिनों का मुफ्त प्रशिक्षण मिलेगा। ताकि वह अपना नया काम शुरू कर सकें। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 कोरोना संक्रमण महामारी के कारण घर लौट चुके श्रमिकों की सहायता के लिए अत्यंत मूल्यवान होगी। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 की सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, कागजी कार्रवाई आदि से अवगत कराएंगे, इसलिए आवेदन करने से पहले इसका लाभ उठाने के लिए कृपया इसे पूरी तरह से पढ़ लें। योजना।

Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022:
Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022:

Table of Contents

Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022

राज्य सरकार विश्वकर्मा श्रम के माध्यम से उत्तर प्रदेश में पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों, जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, छोटे उद्योग आदि स्थापित करने के लिए $10,000 से $10,000 का निवेश करेगी। सम्मान योजना। रुपये तक की वित्तीय सहायता उपलब्ध है। इस कार्यक्रम का पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी। इच्छुक राज्य लाभार्थी जो विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, वे योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस योजना का लाभ उठाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 प्रति वर्ष लगभग 15,000 व्यक्तियों को रोजगार देगी। इस व्यवस्था के तहत मजदूरों को दिया जाने वाला पैसा सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में जमा किया जाएगा। इसलिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास बैंक खाता होना चाहिए और बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 के अंतर्गत 1.43 लाख से अधिक आर्टिसंस को  लाभ प्राप्त हुआ

एमएसएमई और निर्यात संवर्धन विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 26 दिसंबर, 2018 को उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार द्वारा उद्घाटन की गई उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना से राज्य के 1.43 लाख से अधिक कारीगर लाभान्वित हुए हैं। राज्य सरकार की योजना राज्य में पारंपरिक श्रमिकों को कई प्रकार के लाभ प्रदान करती है, जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, और हलवाई, मोची, और इसी तरह। राज्य सरकार अतिरिक्त रूप से योजना के लाभार्थियों को एक उन्नत टूलबॉक्स प्रदान करती है। लगभग 1.43 लाख लाभार्थियों में से 66,300 प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से जुड़े हैं, जिन्हें 372 करोड़ रुपये का ऋण जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत बाँटी गयी टूल किट

विश्वकर्मा दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने 17 सितंबर 2021 को जिला पंचायत सभागार कलेक्ट्रेट में एक समारोह का आयोजन किया। इस समारोह के दौरान विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लाभार्थियों को ऋण और प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। राज्य के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पारंपरिक मजदूर, जैसे दर्जी, बढ़ई, टोकरी बुनकर, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची आदि को राज्य सरकार की पहल से आर्थिक रूप से सक्षम बनाया गया है। किसी के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के लिए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 50 श्रम सम्मान योजना लाभार्थियों को टूलकिट, साथ ही 7 मुद्रा योजना लाभार्थियों को ऋण स्वीकृति पत्र और प्रमाण पत्र भी वितरित किए। इसके अलावा, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत 21000 लाभार्थियों को एक टूल किट भी प्रदान की गई। .

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना अंतिम तिथि

उपायुक्त उद्योग संवर्धन एवं उद्यमिता विकास केंद्र ने जिले के पारंपरिक कारीगरों को बताया कि राज्य सरकार की विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत आवेदन की अंतिम तिथि 20 जून निर्धारित की गई है. इस पहल के तहत राज्य सरकार ने लोहार, मोची जैसे कई शिल्प मांगे हैं. , सोनार, बढ़ई, राजमिस्त्री, नाई, दर्जी, टोकरी बुनकर, कुम्हार और हलवाई ऑनलाइन आवेदन करने के लिए। जो कोई भी इस योजना से लाभ लेना चाहता है और प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहता है उसे 20 जून 2021 तक आवेदन करना होगा। राज्य सरकार की घोषणा के अनुसार, एक परिवार से केवल एक व्यक्ति, यानी पति और पत्नी में से केवल एक ही व्यक्ति प्रशिक्षण प्राप्त कर सकता है। प्राप्त करने के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत विस्तृत जानकारी उपायुक्त कार्यालय उद्योग संवर्धन एवं उद्यमिता विकास केंद्र पर जा सकते हैं।

10 जून 2021 होगी आवेदन की अंतिम तारीख

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए आवेदन की समय सीमा 10 जून, 2021 निर्धारित की गई है। परिणामस्वरूप, सभी आवेदक जो योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना चाहते हैं, उन्हें समय सीमा से पहले ऐसा करना चाहिए। 10 जून के बाद कोई भी आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा। यदि आप योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो हम अनुशंसा करते हैं कि आप अपना आवेदन समय सीमा से पहले या जल्द से जल्द जमा करें ताकि आपको इसका उपयोग करने में कोई कठिनाई न हो।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 के तहत साक्षरता कार्यक्रम

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रवासी और पारंपरिक श्रमिकों की मदद के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 शुरू की है। सरकार इस योजना के तहत रोजगार शुरू करने के लिए छह दिनों का प्रशिक्षण प्रदान करती है। इसके अलावा, लोगों को काम खोजने में मदद करने के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत 10,000 रुपये से 10 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। मिर्जापुर जिले के उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्र के उपायुक्त वीके चौधरी ने बताया कि विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत जिले के सभी नागरिक जिन्होंने इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन किया और आवेदन की हार्ड कॉपी जमा की, उपायुक्त उद्योग कार्यालय को सभी आवेदकों की साक्षरता का आयोजन। यह साक्षरता 4 जून 2021 और 5 जून 2021 को सुबह 11 बजे होगी। इस साक्षरता कार्यक्रम का आयोजन सेंटर फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड एंटरप्राइज की चयन समिति द्वारा किया जाएगा।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की मुख्य विशेषताएं

  • योजना का नाम    – उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना
  • आरम्भ की गई    – श्रम मंत्रालय के द्वारा
  • वर्ष   – ———
  • लाभार्थी     – राज्य के श्रमिक
  • आवेदन की प्रक्रिया    – ऑनलाइन
  • उद्देश्य       – श्रमिकों के कौशल में वृद्धि करना
  • लाभ    – 6 दिन फ्री ट्रेनिंग की सुविधा
  • श्रेणी    – उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
  • आधिकारिक वेबसाइट       – www.diupmsme.upsdc.gov.in/

Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022 का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना शुरू की है, जिसके माध्यम से सभी आर्थिक रूप से वंचित मजदूर, जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई और मोची, वित्तीय सहायता प्राप्त करके अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। . इस योजना को शुरू करने में सरकार का प्रमुख लक्ष्य सभी ग्रामीण हस्तशिल्प व्यापारियों, दर्जी, टोकरी बुनकरों, नाइयों, सुनारों, लोहारों, कुम्हारों, हलवाई, मोची और पारंपरिक कलाकारों को प्रोत्साहित करना है। सरकार इन मजदूरों को इस योजना के तहत छोटे व्यवसाय स्थापित करने के लिए पारंपरिक स्थानीय कलाकारों और कारीगरों को 10,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक की वित्तीय मदद के साथ-साथ 6 दिनों का मुफ्त प्रशिक्षण प्रदान करेगी।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लाभ

  • राज्य के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पारंपरिक व्यापारियों जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची और हस्तशिल्प की कला करने वालों को Vishwakarma Shram Samman Yojana का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 के तहत बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची आदि को 6 दिन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा और साथ ही रोज़गार स्थापित करने के लिए 10 हजार रूपए से 10 लाख रूपए की राशी भी दी जाएगी।
  • हर साल Vishwakarma Shram Samman Yojana के तहत 15,000 लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेगे।
  • राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022 का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • इस योजना के तहत प्रदान किए जाने वाले सभी प्रकार के प्रशिक्षण का पूरा खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी पारंपरिक मजदूरों के विकास और स्वरोजगार को बढ़ावा दिया जायेगा।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 पात्रता मानदंड

  • वे सभी इच्छुक श्रमिक जो Vishwakarma Shram Samman Yojana के तहत अपना पंजीकरण कराना चाहते हैं, उन्हें योजना का लाभ लेने के लिए नीचे दिए पात्रता मानदंड को पूरा करना होगा।
  • केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी श्रमिक ही Vishwakarma Shram Samman Yojana 2022 का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 में पंजीकरण के लिए किसी प्रकार की शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं है।
  • केंद्र सरकार या राज्य सरकार से टूलकिट के संबंध में लाभान्वित होने वाले श्रमिक इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।
  • एक परिवार का केवल एक ही व्यक्ति इस योजना के तहत लाभ पाने के लिए पात्र है।
  • किसी भी जाति, धर्म का व्यक्ति Vishwakarma Shram Samman Yojana के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकता है, इसलिए योजना का लाभ पाने के लिए किसी विशेष जाति या धर्म का होना जरूरी नहीं है।
  • कोई भी व्यक्ति/कर्मचारी जो परंपरागत श्रमिक वर्ग से भिन्न हैं, वे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा पारंपरिक कारीगरी से जुड़े होने के प्रमाण के तौर पर ग्राम प्रधान, नगर पंचायत या नगर पालिका/नगर निगम के अध्यक्ष द्वारा जारी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जाति प्रमाणपत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 में आवेदन कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको नवीन उपयोगकर्ता के पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करें जैसे योजना का नाम नाम जन्मतिथि मोबाइल नंबर पिता का नाम राज्य ईमेल आईडी जिला आदि।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद सबमिट का बटन दबाएं। इस प्रकार आप के पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Also Read:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *